Halloween Costume ideas 2015
May 2017



भारतीय क्रिककेट टीम के पूर्व क्रिकेटर VVS LAXMAN   को बहुत ही शांत स्वभाव का माना जाता है! और उन्होने ने अपने पूरे क्रिकेट करियर मे इस छवि को बनाए रखा. लेकिन एक बार ये महान क्रिकेटर को भी गुस्सा आ गया था ओर उन्होने अपने साथी खिलाड़ी को मारने के लिए बात उठा लिया था. वो खिलाड़ी भारतीय स्पीन्नर गेंदबाद प्रज्ञान ओझा थे. ये घटना एक टेस्ट मैच की है!
आप इस वीडियो मे देख सकते है कि ऐसा क्या हुआ  जो VVS LAXMAN को गुस्सा आ गया

 टेस्ट क्रिकेट मैच जो इंडिया और आस्ट्रलिया के बीच खेला जा रहा था! मैच बहुत ही नाज़ुक स्तिति मे था! इंडिया की टीम अपने 9  विकेट गवा चुकी थी! और अब VVS LAXMAN  के साथ प्रज्ञान ओझा  बल्लेबाजी के लिए आए! आस्ट्रेलिया को जीत के लिया इंडिया का सिर्फ़ एक विकेट चाहिए था! VVS LAXMAN  की मसपेशियो मे खिचाई होने की वजा से उनके लिए टीम इंडिया का  कोई दूसरा खिलाड़ी रन भागने के लिए आया! लेकिन उस खिलाड़ी और प्रज्ञान ओझा  के बीच रन लेते समय ग़लत फेमी हो गयी जिस कारण प्रज्ञान ओझा  रन आउट होंने से बाल बाल बचे! जिस कारण VVS LAXMAN  को इतना गुस्सा आ गया और उन्होने को प्रज्ञान ओझा  मरने के लिए BAT उठा लिया.


आईपीएल 10  का बुखार अभी तक क्रिकेट प्रेमिओ के सर से उतरा भी नहीं के अभी 1 जून से शुरू होने वाली चैंपियन ट्रॉफी के बारे में चर्चा होने लगी है! वैसे सभी 8 टीमों के खिलाड़िओ का चयन हो गया है! अगर बात करे भारतीय टीम की तो BCCI  ने अपने बेस्ट 15  खिलाड़िओ का चयन कर लिया है! और एक सवाल जो सभी क्रिकेट एक्सपर्ट के गले के तले  नहीं उतर रहा वो है आईपीएल 10  में 16  इन्निंग्स में 41.50 की औसत से 498  रन्स बनाने वाले गौतम गंभीर का चैंपियन ट्रॉफी के लिए नहीं चुना जाना.
चौंका देने वाली बात ये रही के पहले 15  में चुने गए मनीष पांडे के नेट में चोटिल होने के बाद दिनेश कार्तिक को टीम में लिया गया, वैसे दिनेश कार्तिक ने  आईपीएल 10 में अच्छा प्रदर्शन करते हुए 361 रन बनाये है. पर इस बात पर भी गौर करना होगा की इस बार भी चैंपियन ट्रॉफी इंग्लैंड में होने वाली है. लेकिन दिनेश कार्तिक को इंग्लैंड में खेलने का कोई ज्यादा अनुभव नहीं है.
अगर बात गौतम गंभीर की बात करे तो हम कैसे भुला सकते है 2011 के वर्ल्ड कप फाइनल में गंभीर की वो मैच जिताने वाली पारी और एक समय वो था जब हम गंभीर के बिना टीम इंडिया की कल्पना भी नई कर सकते थे . लेकिन मानो या ना पर टीम इंडिया में या सिलेक्शन कमेटी में कोई तो है जो नहीं चाहता की गंभीर अब टीम इंडिया के लिए खेले . अगर ऐसा नहीं होता तो 498 रन बनाने के बाद भी गंभीर को खुद से ये सवाल नहीं पूछना पड़ता की मेरी क्या गलती ?

विराट कोहली का जीवन 

पूरा नाम    – विराट प्रेम कोहली
जन्म        – 5 नवम्बर 1988
जन्मस्थान – दिल्ली
पिता        – प्रेम कोहली
माता        – सरोज कोहली

 विराट कोहली का जन्म 5 नवम्बर 1988 को दिल्ली में पंजाबी परिवार में हुआ था। उनके पिता प्रेम कोहली एक आपराधिक वकील के रूप में काम करते थे और उनकी मां सरोज कोहली एक गृहिणी हैं। उनके बड़े भाई विकास और एक बड़ी बहन है। अपने परिवार के अनुसार जब वह तीन साल का था, तो कोहली एक क्रिकेट बल्ला उठाते थे उसे झटकना शुरू कर देते हैं और अपने पिता से गेंदबाजी करने को कहते हैं।
 आप कोहली की कहानी इस वीडियो में भी देख सकते है 

कोहली उत्तम नगर में बड़े हुए और विशाल भारती पब्लिक स्कूल से शिक्षा ग्रहण की। 1998 में, पश्चिमी दिल्ली क्रिकेट अकादमी बनी और कोहली 9 साल की आयतु में ही उसमे शामिल हुए। कोहली के पिता ने तभी कोहली को अकादमी में शामिल किया जब उनके पडोसी ने उनसे कहा की, विराट को गल्ली क्रिकेट में समय व्यर्थ नही करना चाहिये बल्कि उसे किसी अकादमी में व्यावसायिक रूप से क्रिकेट सीखना चाहिये। राजीवकुमार शर्मा के हातो कोहली ने प्रशिक्षण लिया और सुमित डोगरा अकादमी में मैच भी खेला। 9 वी कक्षा में उन्हें सविएर कान्वेंट में डाला गया ताकि उन्हें क्रिकेट प्रशिक्षण में मदद मिल सके। खेलो के साथ ही कोहली पढाई में भी अच्छे थे, उनके शिक्षक उन्हें एक होनहार और बुद्धिमान बच्चा बताते है।


CAREER SUMMERY TILL DATE

 

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget